.....

18 मार्च 2011

रंगों के त्योहार होली की हार्दिक बधाई....



(१) दिल ने एक बार और हमारा कहना माना हैं!
इस होली पे फिर उनसे रंगने जाना हैं !!
हर साल खेलते हैं होली, इस बार भी करली तैयारी !
इस बार खेलना मेरे साथ, देखना राह हमारी !!
नीला हरा लाल गुलाबी, ये सब एक बहाना हैं !
होली का हो दिन या कुछ और हमें तो तुमसे मिलने आना हैं !!


(२) होली के पावन उत्सव पर, आओ फिर से मौज मनाए !
लाल - पीला, हरा - गुलाबी आओ सबको रंग लगाए !!
चेहरा काला, फटा पैजामा, देखो ये क्या हाल हो गया !
मैं जब उनकी गलियों से गुजरा, वो भी हम पर मुस्कुराए !!


(३) होली के रंग मस्त बिखरेंगे...
क्योकि पिया के संग हम भी तो भींगेगे..
होली में इस बार तो और भी रंग होंगे...
क्यों की मेरे पिया भी तो मेरे संग होंगे...


(४) गुल ने गुलशन से गुलफाम भेजा हैं...
सितारों ने आसमान से सलाम भेजा हैं...
मुबारक हो आपको होली का त्यौहार..
हमने दिल से आपके लिए ये पैगाम भेजा हैं...

(५) अपने रंग में रंग दो उनको..
चेहरा जिनका भाता तुमको !
हम तो कब के रंग चुके..
जब से उनकी नयना झुके !!
आज सजी रंगोली हैं..
रंगों में सिमटी होली हैं !
खुशियों में डूबी होली हैं...
बुरा न मानो होली हैं !!

1 Post a Comment:

utpal 22 मार्च 2011 को 6:24 pm  

दिल ने एक बार और हमारा कहना माना हैं!
इस होली पे फिर उनसे रंगने जाना हैं !!
हर साल खेलते हैं होली, इस बार भी करली तैयारी !
इस बार खेलना मेरे साथ, देखना राह हमारी !!
नीला हरा लाल गुलाबी, ये सब एक बहाना हैं !
होली का हो दिन या कुछ और हमें तो तुमसे मिलने आना हैं !!

एक टिप्पणी भेजें

  © Shero Shairi. All rights reserved. Blog Design By: Jitmohan Jha (Jitu)

Back to TOP